Object linking And Embedding (OLE)

Object linking And Embedding (OLE):- hello friends yourstudynotes.com में आपका स्वागत है आज हम आपको बताने जा रहे है OLE के बारे में तो जानते है कि OLE क्या होता है तो चलिए शुरु करते है |

Object linking And Embedding :-

Object Linking And Embedding (OLE) adobe page maker 7.0 का बहुत ही अच्छा Feature है ये Feature place Feature के जैसे ही Work करता है OLE Place के जैसे ही किसी File को Import करने का काम करता है | लेकिन ये किसी भी प्रकार कि file को Adobe page maker में लेन का काम करता है |

जैसे कि – Audio, Vedio, Text , M.S Word , Excel and Corel draw etc. जैसी File को एक जगह इकठ्ठा करता है इसे ही OLE यानिकी (Object linking and Embedding) कहते है| OLE को Page maker में Insert Object के नाम से जाना जाता है इसे Insert object भी कहते है | Information को Present करने के लिए ये बहुत ही Effective feature है इसकी सहायता से हम किसी भी Software कि File को Open करके उसमे Editing and Formatting करने के बाद हम उसे Adobe page maker में Place कर सकते है OLE कि मदद से हम किसी भी Software कि पुरानी File को भी Insert कर सकते है और नई File में भी Editing and Formatting कर सकते है

For Example :- M.S Excel कि File में बने graph या Spread data को Page maker के Document में Insert किया जा सकता है |

OLE को Apply करने के Step :-

  • सबसे पहले Page maker के उस Document को Open करना है जिसमे OLE /Insert Object करना हो |
  • उसके बाद Menu bar के Edit menu में जाकर Insert object के Option को Choose करना है |
  • फिर Inset Object का Dialog Box Open हो जाएगा |

object linking and embedding

  • इस Box में से अगर हमे New File बनानी है तो Creat New पर Click करे और अगर पुरानी File को ही Insert करना है तो Creat form file पर Click करना है |
  • फिर object type list में से उस File को Select करे जिसे आप Document में Insert करना चाहते है|
  • उसके बाद Ok पर Click कर दे|