E-mail kya hai aur iska kya use hai

E-mail kya hai aur iska kya use hai:-Hello friends yourstudynotes.com में आपका स्वागत है आज हम आपको बताने जा रहे है E-mail के बारे में तो चलिए शुरु करते है l

E-mail

दोस्तों आज की इस डिजिटल दुनिया में आप सभी लोगों ने ई-मेल के बारे में तो जरूर सुना ही होगा और use भी किया होगा लेकिन जिन लोगों ने E-mail का use नहीं किया है| तो घबराने की कोई बात नहीं है। आज हम आपको ई-मेल के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

E-mail kya hai aur iska kya use hai
E-mail kya hai aur iska kya use hai

Friends पुराने समय में Letter को भेजना और लाने का काम postman करता था| लेकिन अब यह काम E-mail करता है। E-mail किसी के भी Letter को Digital form में Send & receive करता है। E-mail को Electronic mail या mail भी कहा जाता है। E-mail का use करने के लिए हमारे Device में internet का होना आवश्यक है। बिना internet के हम ई-मेल की सुविधा का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। ई-मेल का use करने के लिए हमें internet पर mail ID बनानी होगी तो हम mail का use कर सकते हैं। mail में text, image, file and attachment भी send कर सकते हैं।

E-mail kaise kaam krta hai:-

E-mail को भेजने के लिए सबसे पहले हमारे पास computer, laptop या फिर mobile phone होना आवश्यक है। उसके साथ -साथ internet भी होना जरूरी है और जिसको भेज रहे हैं उसका E-mail Address होना चाहिए यह E-mail Address unique होता है। सबसे पहले user अपने E-mail Account से Letter Type करता है फिर जिस को भेजना है उसका ई-मेल Address लिख कर उसे send करता है तो वह तो यह modem के द्वारा एनकोड होकर और फोन लाइन द्वारा analog signal में बदलकर sender ISP के द्वारा भेजा जाता है। E-mail receiver provider द्वारा प्राप्त होता है और provider द्वारा अपने mail server तक पहुंचने के बाद Receiver तक पहुंचने के लिए उसके mail box में रख दिया जाता है। यह वहां उस समय तक रहता है जब तक कि receiver internet के द्वारा connect नहीं हो जाता आखरी में receiver के modem और computer data को decode करते हैं और फिर हम mail को read कर सकते हैं।

History of E-mail:-

E-mail का अविष्कार ray tomlinson ने 1971 में किया था | यह Mail उन्होंने पहली बार खुद को ही भेजा था |

E-mail service of Website:-

  • Yahoo
  • Gmail
  • Re-diff
  • Hotmail
  • my real box
  • outlook etc.

 

Internet के लाभ:-

1. सस्ता:-

E-mail भेजने का सबसे सस्ता माध्यम है। इसके द्वारा एक ही connection का प्रयोग कर हम विदेश में बैठे मित्रों को भी संदेश भेज सकते हैं।

2. Speed:-

E-mail द्वारा भेजे गए संदेश की गति बहुत तेज होती है। एक पत्र को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए दो या चार दिन लगते थे परंतु ई-मेल द्वारा भेजा गया संदेश कुछ समय में पहुंच जाता है।

3. आसान:-

ई-मेल का उपयोग करना बहुत ही आसान है। इसमें मैसेज को टाइप करना और उसको भेजना अत्यंत ही सरल है।

4. लोकेशन मालूम नहीं होने पर भी यह कहीं भी मैसेज भेज सकता है|

5. यह 24 घंटे सेवा प्रदान करता है।

6.यह सीमित मात्रा में डाटा सूचना प्रदान करता है।

7.इसमें ग्लोबल कम्युनिकेशन आसान व तीव्र होता है।

E-mail कि हनिया:-

  1. इसको उसे करने के लिए internet कि जरूरत होती है |
  2. यह ज्यादा privicy प्रदान नही करता है|
  3. यह junk mail द्वारा सूचना overloading देता है |
  4. इसे use करने के लिए Technology का ज्ञान होना आवश्यक है |

Sending E-mail:-

  • सबसे फेले हमे अपनी E-mail I’d से sign in करना होगा |
  • उसमे left hand side में side bar में सबसे उपर compose के button पर Click करना है|

E-mail kya hai aur ise kaise use krte hai

  • फिर उसमे एक box open होगा |

E-mail box

  • उस box मे सबसे ऊपर वाली बार में To लिखा होगा उसमे उस व्यक्ति का E-mail address लिखना है जिसे आप भेजना चाहते है |
  • फिर उसके निचे subject का option होगा उसमे आपको अपने संदेश का subject लिखते है कि आप किस बारे में उसे mail कर रहे है |
  • उसके बाद उसके निच्चे वाली box में अपना मेल type कर के send के button पर Click करना है |

Receiving E-mail:-

  • सबसे पहले हमे हमारे E-mail I’d से sign in करना होगा |
  • उसके बाद उसके side bar में inbox पर click करे|
  • फिर उसमे unread किये हुए E-mail कि List आ जायेगे
  • उसके बाद आप किसी भी mail को receive कर सकते है